प्रोटीन में हाई सोया चंक्स को खाने से पहले जान लें इसके फायदे और नुकसान

अपनी रूटीन डाइट में सोयाबीन को शामिल कर आप शरीर की ज़रूरत को कुछ हद तक पूरा कर सकते हैं. इसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है.

प्रोटीन से भरपूर यह सोयबीन न सिर्फ एक्टिव और फिट बनाए रखने में मदद करता है, बल्कि वेट लॉस, कैंसर, शारीरिक विकास, डायबिटीज़, हाई ब्लडप्रेशर, आस्टियोपोरेसिस जैसी बीमारियों में भी कारगर साबित होता है.

जानिए सोयाबीन के फायदे

पीरियड्स में जिन्हें अधिक ब्लीडिंग या दर्द की समस्या होती है, उन्हें सोयाबीन खाने से बचना चाहिए.

महिलाओं  और डायबिटीज़ रोगी न खाएं सोयाबीन

सोयाबीन का अवश्यकता से अधिक सेवन महिलाओं की समस्याओं को बढ़ा सकता है, जिनमें फैमिली प्लानिंग में समस्या और पीरियड में अधिक ब्लीडिंग शामिल है.

सोयाबीन के अधिक सेवन से अक्सर एस्ट्रोजन हार्मोन की मात्रा बढ़ जाने से नींद न आने, तनाव, मासिक चक्र में गड़बड़ी जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है.

सोयाबीन खाने से महिलाओं को हॉर्मोन संबंधी कई परेशानियां होती है. दरअसल इसमें मौजूद कम्पाउंड फीमेल हॉर्मोन एस्ट्रोजन की नकल करता है, जिससे महिलाओं में हार्मोन्स की गड़बड़ी हो सकती है.

ऐसे में बेहतर यही होगा कि सोयाबीन का सेवन लिमिट मात्रा में करें.

THANK YOU